black hat seo and white hat seo in hindi ? Tech desai


"दोस्तों" आज हम बात करने वाले हैं black hat seo and white hat seo in hindi क्या है और Black Hat SEO vs White Hat SEO के बीच अंतर क्या है?जब भी कोई नया ब्लॉगर "seo kya hai"इसके बारे में जानना चाहता है तो उनके सामने seo से related बहुत सारे सवाल खडे़ हो जाते हैं उसमें से black hat or White hat seo क्या है और यह हमारी वेबसाइट के लिए सही है या नहीं इस तरह के सवाल उनके मन मे जरूर आतें हैं तो आज हम आपको इस पोस्ट में बिल्कुल सरल भाषा में इसके बारे में बताते वाले हैं?




अपनी वेबसाइट को गुगल मे रैंक कराने के लिए हजारों method है और इसके लिए बहुत सारे Seo फैक्टर का इस्तेमाल किया जाता हैं,SEO एक ऐसा process है जिसकी मदद से हम अपनी वेबसाइट पर दोनों तरह के volume और traffic बढा़ सकते हैं,और ऐसे में सभी ब्लॉगर खासकर जो नये ब्लॉगर होते हैं वो जल्द बाजी मे popular हो जाना चाहते हैं इसलिए वो हमेशा ऐसे ही tricks को ढूंढते रहते हैं जिसकी मदद से वो अपने blog वेबसाइट की रैकिंग को जल्द से जल्द बढा़ सकें। ऐसे में उन्हें सिर्फ black hat seo ही नजर आता है कयोंकि इसमें आपको बहुत जल्दी result देखने को मिल जाते हैं।इसलिए black hat seo नये ब्लॉग को सबसे अधिक आकर्षित करता है?




Black hat seo एक ऐसी रणनीति है जो search engine मे इसका उपयोग high ranking प्राप्त करने के लिए किया जाता हैं, black hat seo सिर्फ सर्च इंजन को फोक्स करता है और यह results भी बहुत जल्दी देता है।लेकिन समय के साथ साथ इसका प्रभाव भी बहुत बुरा पडता है आपके वेबसाइट की रैकिंग कम हो जाएगी और आपकी वेबसाइट को पुरी तरह से ब्लैकलिस्ट कर दिया जाता हैं?



हम अपनी वेबसाइट में ट्रैफिक बढ़ाने के लिए Seo का इस्तेमाल करते हैं, अगर हम sco को अच्छे तरीक़े से इस्तेमाल करें तो वह White hat Seo बन जाता हैं, अन्यथा black hat Seo बन जाता हैं, जो हमारे ब्लॉग वेबसाइट के लिए बहुत नुकसान दायक साबित होता हैं,इसलिए अगर आप blogging को लेकर अपना भविष्य बनाना चाहते है तो आप कभी भी ऐसी गलती ना करें?



Black hat Seo vs White hat Seo क्या है और कयों जरूरी है?

difference in white hat seo and black hat seo
What is black vs white hat seo 



 अगर आप भी blogging मे नये है और blogger मे काफी समय से blogging कर रहे हैं तो आपको इसके बारे में थोड़ी बहुत जानकारी जरूर होगी, अगर नहीं है तो आपको चिंता करने की जरुरत नहीं है कयोंकि आज हम इन्हीँ के बारे में सिखेगें, आज के समय में हर कोई blogging के Field में हैं उन्हें इन दोनों फैक्टर black hat seo और white hat seo क्या है के बारे में जानकारी जरूर होगी या जरूर होनी चाहिए, accuretly होता यह है कि बहुत से नये ब्लॉगर internet पर search करते हैं जो उन्हें blog traffic और backlink को बढा़ने वाली वेबसाइट मिल जाती हैं,जो $8 to $10 मे वेबसाइट traffic बढाने का भरोसा दिलाती है ओर उन्हें कम किमत समझ कर खरीद लेते हैं जिससे black hat seo की तरफ बढ़ने का यह उनका पहला रास्ता होता हैं?



हमेशा हमारे पास दो विकल्प होते हैं पहला सही विकल्प और दुसरा गलत विकल्प होता है अब हमें कौनसा विकल्प सुनना है यह हमें तय करना है, उसी तरह यहां भी दो विकल्प है black hat seo और white hat seo, अगर आपको इसके बारे में थोड़ी बहुत जानकारी होगीं तो आप सही विकल्प पर ही जाना चाहेंगे, यानि white hat seo की तरफ ही कदम उठाएंगे,लेकिन problem कब शुरू होती हैं जब आप white hat seo को गलत तरीके से use करना शुरू कर देते है जिससे white hat, black hat seo मे बदल जाता हैं?


difference in white hat seo and black hat seo ? 




black hat seo यह seo के Rules को follow कभी भी नहीं करता है, यह केवल search engine को ही important देतीं है black hat seo का इस्तेमाल मुख्य रूप से वहीं करतें है जिन्हें बहुत जल्दी results चाहिए और बिना मेहनत के फल की आशा करते हैं, यहां मे आपके लिए कुछ technique लाया हूँ जो black hat seo मे अधिकतर इस्तेमाल किया जाता हैं, जैसे farming,link,hidden taxt, keywords staffing,और link आदि बस इसके इस्तेमाल से आपका वेबसाइट Google search engine से de-indexed हो जाता हैं और आपकी वेबसाइट को ब्लैकलिस्ट कर दिया जाता हैं?

वहीं white hat seo केवल audience को ही target करता है न की search engine को इन technology के इस्तेमाल से आपको जल्दी से Result नहीं मिल पाते हैं लेकिन अगर आपको इसें हासिल करना है तो इसे आपको एक लम्बें समय तक इसका इस्तेमाल करना होगा।तभी आपको एक अच्छा results देखने को  मिल सकता है, यहां कुछ techniques जो कि White Hat SEOमे इस्तेमाल किया जाता हैं, जैसे keyword research,LSI keywors, keywords analysis,rewriting meta tag,link building, इसके इस्तेमाल करने से आपको search engine मे कोई खतरा नहीं होगा,इसलिए इनका इस्तेमाल आप एक लम्बे समय तक कर सकते हैं?


what is grey hat seo in hindi ? 



कोई भी ब्लॉगर अपनी वेबसाइट मे black hat seo 5%करता है और White hat seo 95% करता है तो यह Seo grey hat seo के अन्तर्गत आता है और उसें internet पर grey hat seo के नाम से जाना जाता हैं जो हम seo को अपनी वेबसाइट को गुगल के पहले पेज पर लाने के लिए उसें धोखा दे देते हैं।

यदि कोई ब्लॉगर अपनी वेबसाइट को कम से कम समय में गुगल के पहले पेज पर लाने के लिए grey hat Seo का इस्तेमाल करता है तो उसकी वेबसाइट गुगल के पहले  पेज पर कम समय में तो आ जाएगी, मगर गुगल के हाई पावरफुल साफ्टवेयर के माध्यम से वो वेबसाइट पकडी जाएगी , जिसके कारण आपकी वेबसाइट गुगल के नजर मे आ जाएगी, फिर गुगल आपकी वेबसाइट को ब्लैक लिस्ट में डाल दिया जाएगा। और फिर कभी भी आपकी वेबसाइट गुगल मे रैकिंग नहीं करेगीं। जो कि आपकी वेबसाइट के लिए ठीक नहीं है।



Grey hat Seo technique


Link spam:-अपनी वेबसाइट या ब्लॉग की भारी मात्रा में do follow लिंक बनाना उसें Link spam कहा जाता है जो Grey hat Seo के अन्तगर्त आता है।


Hidden taxt:-अपनी वेबसाइट या ब्लॉग के content को कलर के हिसाब से डाइट करना जैसे White background कलर में white text का कलर करना hidden taxt कहलाता है ।




Black Hat SEO Techniques?



Keywords Stuffing:-किसी भी आर्टिकल मे एक keywords को बार बार बिना किसी इस्तेमाल के use करना जो उस आर्टिकल को Search engine जल्दी से जल्दी Rank किया जा सकें।ऐसा करने से visitors को आर्टिकल Read करने में बहुत दिक्कतें आती हैं,कयोंकि बिना किसी कारण के एक ही keywords को बार बार Repeat करना उसें Keywords Stuffing कहा जाता हैं।आमतौर पर नये blogger इस गलती को करते हैं?




Invisible Text :-किसी भी आर्टिकल मे जितने ज्यादा keywords लगे होते हैं उतना ही अधिक search engine मे Rank होने के chances बढ़ जाते हैं। इसलिए ऐसे keywords को white taxt मे लिखकर white background मे रख दिया जाता हैं जिससें अधिक से अधिक google spiders को अपने और आकर्षित करता है।कयोंकि ये Reader को दिखाई नहीं पडतें,ब्लकि ये google search engine spiders को ही दिखाई पड़ते हैं?


Meta Keywords :-किसी भी आर्टिकल मे Meta Keywords लिखतें समय यह बात जरूर ध्यान रखनी चाहिए कि ऐसे keywords का इस्तेमाल करें जिसके इस्तेमाल करने से viewers को यह बताने मे कामयाब हो कि यह पोस्ट किस बारे में लिखी है, लेकिन ऐसे कई ब्लॉगर होते हैं जो meta keywords का ऐसे इस्तेमाल करते है जिसका इस आर्टिकल से कोई लेना देना ही नहीं होता है जिसका उस पोस्ट से कोई सम्बंध ही नहीं होता है, ऐसा सिर्फ page के Ranking को बढा़ने के लिए किया जाता हैं,लेकिन ऐसा करना black hat Seo को बढा़वा देने के बराबर है?



Doorway & Gateway Post :- यह एक आधी-अधूरी पोस्ट होती हैं जिसें fake page भी कहते हैं,जो reader नहीं देख सकते. इन्हें केवल Search Engine Spiders को ध्यान में रखकर बनाया जाता है जो अपनी वेबसाइट को आसानी से पोस्ट की ranking को index किया जा सके जिसे Doorway and Gateway पोस्ट कहते है?




Duplicate Content:-जब कोई नया ब्लॉगर blogging शुरू करता है और उसें blogging के बारे में अधिक जानकारी नहीं होती हैं तो वह किसी भी आर्टिकल को copy paste करके अपने ब्लॉग मे डाल देता है,और उस आर्टिकल को बार बार शैयर करता रहता है जिससे उसके ब्लॉग पर अधिक से अधिक मात्रा में traffic मिल सकें।लेकिन ऐसा करने से google search engine अपनी वेबसाइट को ben कर सकता हैं?



White Hat SEO Techniques?



Quality Content:- White hat Seo में quality Content ही सबसे ज्यादा important होता हैं,और अगर आप अपने वेबसाइट पर अधिक से अधिक traffic लाना चाहते हैं और आप चाहते हैं कि बिल्कुल कम से कम समय में अधिक viewers आएं तो आप ऐसी पोस्ट शैयर करें जो internet पर पहले किसी ने ऐसी पोस्ट शैयर ना की हो,यहीं internet पर Content is the King माना जाता हैं,लेकिन आप कितना भी अच्छा Seo कर लों अगर आपके पोस्ट में ही दम नहीं है तो आप कभी भी अपने आर्टिकल को rank नहीं करा सकते हैं?




Extra Images:- अपनी पोस्ट में बिना किसी जरूरत के Extra images use करना google search engine के खिलाफ है,White hat Seo ये Clear करता है कि आर्टिकल मे वहीं image use करें जो reader के लिए helpful साबित हो सकें?


Titles and Meta description :- अपने आर्टिकल मे property title और Meta description का इस्तेमाल करना बहुत जरूरी है,यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि अपने आर्टिकल मे title और meta description मे keywords repeat बिल्कुल नहीं करें और अपने आर्टिकल मे Titles and Meta description उसी पोस्ट के अनुसार होनी चाहिए?




Website speed:-  अपनी वेबसाइट को search engine मे जल्दी से Rank कराने के लिए अपनी Website की  speed  से open होना बहुत जरूरी है ,उसें बाकी वेबसाइट की तूलना मे google search engine से अधिक फायदा होता हैं?



Keyword Research & Effective Keywords :- किसी भी वेबसाइट या आर्टिकल को search engine मे rank कराने के लिए keywords Research का होना बहुत ही आवश्यक है, क्योंकि ऐसा करने से हम अपने आर्टिकल को जल्द से जल्द रैंक करा सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको अपनी पोस्ट में keywords को सहीं जगह पर ही इस्तेमाल करना पड़ता है जैसे:-

•Post Title,
•Post Url,
•First paragraph,
•Last paragraph,
•Text,
•Heading Elements
•alt tag,
•Meta Description,
•Meta Keywords,

इस तरह से आप अपनी पोस्ट में Keyword Research और Effective Keywords को सहीं जगह पर इस्तेमाल कर सकते हैं?



Quality BackLinks & link Building:-अपनी वेबसाइट के लिए backlink ऐसी वेबसाइट से बनाएं जिसकी DA.और PA. अपने से अधिक होनी हैं, अपनी ही जैसी वेबसाइट link building और backlink  प्राप्त करना आपके वेबसाइट की rich को search engine मे बढाता है,अगर आप nesural तरीक़े से अपनी साइट के लिए link बनातें है तो उसें white hat Seo कहलाता है इसलिए अच्छे backlinks का बहुत ही ज्यादा महत्व है, और हमेशा एक बात ध्यान रखें , हो सकें तो ऐसे वेबसाइट से link लायें जो कि आपकी वेबसाइट से सम्बंधित हो, जैसे अगर आप insurance के बारे में लिखतें है तो आप insurance related  website से backlink लाना होगा,जिससें आपके blog की Seach Engine मे अच्छी ranking बनेगी?




उम्मीद करता हूँ दोस्तों आप को हमारा लेख "black hat Seo vs white hat Seo क्या है"के बारे में पूरी जानकारी दी है और मुझे उम्मीद है कि आप लोगों को black hat & White hat Seo technique अंतर  समझ में आ गया होगा, आप सभी दोस्तों से मेरी गुजारिश है कि आप लोग इस जानकारी को अपने पास-पडोस और सभी मित्रों को Share करें,कयोंकि मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी न्यु-न्यु जानकारी आप लोगों तक पहुंचाने में कामयाब हो सकूँ?

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां